अक्सर देखा जाता है कि लोग बढ़ी हुई चर्बी से परेशान हैं। इसके पीछे का सबसे बड़ा कारण होता है अच्छे से अपने स्वास्थ का ध्यान ना देना। जिससे आपकी हालत ख़राब हो जाती है। लेकिन क्या इसे नियंत्रित करने के लिये हम सही व्यायाम और सही खानपान का सहारा लेते हैं?

Loading...

सी कड़ी में हम कुछ आसान टिप्स बता रहे हैं जिनसे आपको फेट कम करने में मदद मिलेगीः

मीठे सॉफ्ट ड्रिंक्स से दूर रहें।
अध्ययन बताते हैं कि सॉफ्टड्रिंक्स में मिली शुगर हमारी मेटाबॉलिक हेल्थ के लिये बेहद खतरनाक होती है। फ्रक्टोज की मात्रा ज्यादा होने के चलते इससे फेट बढ़ जाता है।

एरोबिक्स करें।
व्यायाम से कई तरह के शारीरिक फायदे होते हैं। अतिरिक्त फेट को कम करने में भी यह बेहद मददगार है। एरोबिक्स जैसे चलना, दौड़ना, तैरना आदि बेहद मददगार साबित हो सकते हैं।

फाइबर युक्त पदार्थों का सेवन।
फाइबर का उचित मात्रा में सेवन करना चाहिये। खासतौर पर फल, सब्जियां, मोटे अनाज और बींस का सेवन करना चाहिये, क्योंकि ये लसदार (विस्कस) फाइबर के अच्छे स्रोत होते हैं।

दही का सेवन करने से शरीर की फालतू चर्बी घट जाती है। छाछ का भी सेवन दिन में दो-तीन बार करना लाभदायक है।गरम पानी में नींबू का रस और शहद घोलकर रोज सुबह खाली पेट पिएं। इससे पेट सही रहेगा और मोटापा दूर होगा।

ग्रीन टी में एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है, जो मोटापा घटाने के साथ-साथ चेहरे की झुर्रियों को भी दूर करता है। ग्रीन टी को बिना चीनी के पीने से इसका फायदा जल्द होता है।

बताना चाहेंगे कि कई अध्ययनों में यह बात सामने आई है कि जब लोग कार्बोहाइड्रेट्स का सेवन कम करते हैं तो भोजन के प्रति उनकी इच्छा भी कम होती है। लो-कार्ब फेट्स तोंद कम करने में मदद करते हैं।

जिस व्यक्ति का BMI यानी बॉडी मास इंडेक्स 25 से 29.9 के बीच होता है, उसे डॉक्टरी भाषा में ओवरवेट या ज्यादा वजनदार कहा जाता है। दूसरी ओर जब BMI 30 या उससे अधिक होता है, तो इसे मोटापा कहा जाता है। मोटापा घटाने के लिए खान-पान में सुधार जरूरी है।

Source: india

कृपया इस महत्वपूर्ण जानकारी को अपने परिवार और मित्रों के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करें!

Loading...