सर्वाइकल कैंसर के बारे में जानकारी

Cervical Cancer Information in Hindi

सर्वाइकल कैंसर को सामान्य तौर पर पहचानना मुश्किल होता है। लेकिन कई ऐसे लक्षण होते है जिससे इन्हे पहचाना जा सकता है। तो आइए सर्वाइकल कैंसर के लक्षणों के बारे में जाने।

Loading...

1. अनियमित मासिक धर्म (Irregular Menstruation)

इस कैंसर के हो जाने से मासिक धर्म अनियमित हो जाता है। यहा तक की मेनोपॉज़ के बाद भी रक्तस्तराव होता है।

2. वाइट डिसचार्ज (White Discharge)

योनि से हमेशा बदबूदार सफेद पानी का बहना और मासिक धर्म के दौरान बदबू आने जैसी समस्या इसमे बनी रहती है।

3. अनियमित रक्त स्ट्राव (Irregular Bleeding)

Menopause के बाद योनि से रक्त बहना और संभोग के दौरान रक्त का स्ट्राव होना भी इस कैंसर का लक्षण होता है।

सर्वाइकल कैंसर का इलाज (Treatment of Cervical Cancer)

सर्वाइकल कैंसर के इलाज के लिए यह जानना बहुत ज़रूरी होता है की महिलाओ में यह कितना फैल चुका है। आइए जानते है इसके लिए ट्रीटमेंट।

1. सर्जरी (Surgery)

सर्जरी, ग्रीवा कैंसर के प्राथमिक दो चरणो के इलाज के लिए की जाती है। यह सर्जरी करने से पहले यह जानना बहुत ज़रूरी होता है की महिला कितने साल में गर्भवती हुई और कितने बच्चे है। इस सर्जरी को Hysterectomy कहा जाता है। यह गर्भाशय ग्रीवा और गर्भाशय को निकालने के लिए की जाने वाली सर्जरी होती है।

2. Chemotherapy:

इस थेरपी में कैंसर कोशिकाओ को नष्ट करने के लिए दवाइयों का इस्तेमाल किया जाता है। Chemotherapy का अकेले इस्तेमाल करने से महिलाओ में कुछ साइड एफेक्ट भी हो सकते है इसलिए इसके साथ रेडीयेशन थेरपी को भी शामिल किया गया है। इसके द्वारा महिलाओ की योनि से रक्त स्ट्राव होना, दर्द होने जैसी बहुत सी समस्याओ का इलाज हो जाता है।

3. रेडीयेशन थेरपी (Radiation Therapy)

इस थेरपी में X-Rays विकिरण के द्वारा कैंसर कोशिकाओ और ट्यूमर कोशिकाओ को हटाया जाता है। यह प्रणाली तब उपयोग में लाई जाती है जब महिलाओ को ग्रीवा कैंसर बहुत दिनों से हो। इसमे दो प्रकार की therapy उपयोग में लाई जाती है।

 

  1. एक्सटर्नल रेडीयेशन थेरपी (External Radiation Therapy): इस थेरपी में एक बड़ी रेडीयेशन मशीन के द्वारा कैंसर कोशिकाओ को नॅस्ट किया जाता है।
  1. इंटर्नल रेडीयेशन थेरपी (Internal Radiation Therapy): इस थेरपी को brachytherapy भी कहा जाता है। इसमे योनि के पास एक छोटा सिलिंडर रखा जाता है और बाहर से radiodharmi विकिरण इस सिलिंडर में प्रवेश कराई जाती है, इस प्रकार इसमे इलाज किया जाता है।

आज आपने जाना सर्वाइकल कैंसर के बारे में। यदि महिलाओ में इस कैंसर के लक्षण दिखाई देते है तो तुरंत डॉक्टर की सलाह लेना चाहिए।

Source: healthindian

कृपया इस महत्वपूर्ण जानकारी को अपने परिवार और मित्रों  के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करें!

Loading...

Cervical Cancer Information in Hindi

Next post:

Previous post:

0 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap