पेट के कीड़े का घरेलू इलाज और इसके लक्षण

diagram-_1907.pngसामान्य सी जीवन जीने पर अचानक पेट में दर्द होना शुरू हो जाता है। डॉक्टर से मिलने के बाद पता चलता है कि पेट में कीड़े हैं। ये कीड़े ज्यादातर बच्चों के पेट में पाए जाते हैं। पेट में कीडे पड़ना एक आम-सी बात है। इसमें पाचन संबंधी विकार जैसे भूख न लगना, जी मिचलाना, उल्टी आना और कमजोरी होने लगती है। जब ये कीड़े लार्वे फेफडे तक पहुंच जाते हैं, तो दमा रोग भी हो सकता है।

Loading...

पेट में कीड़े के कारण 

बच्चों द्वारा मिट्टी खाने, दूषित भोजन खाने, गंदे कपड़े पहनने, शरीर की उचित सफाई न करने, बाहर का दूषित खाना खाने, मांस-मछली, गुड़, दही, सिरका आदि अधिक मात्रा में सेवन करने से पेट में कीड़े हो जाते हैं।

पेट में कीड़े के लक्षण

1. इसमें जीभ सफेद और आंखे लाल हो जाती है।

2. ओंठ सफेद, गालों पर धब्बे और शरीर में सूजन आदि के लक्षण दिखाई देते हैं।

3. गुदाद्वार तथा उसके आस-पास की त्वचा पर खुजली-सी होती है।

4. मल में खून आना और उल्टीी आने लगता है।

पेट में तीन प्रकार के कीड़े हो जाते है- इनमें से फीता कृमि और हुक वार्म अधिक पीड़ादायक होते हैं। यदि सही प्रकार से इलाज न किया जाये तो अन्य प्रकार की गंभीर बीमारियां पैदा हो सकती है।

प्राकृतिक और घरेलू उपचार:

1. पेट के कीड़ों से बचने का सबसे अच्छा तरीका है- स्वच्छता। खाने-पीने से पहले अच्छी तरह से हाथ धोना, ढ़ककर रखें भोजन, सड़क किनारे मिलने वाले कटे फलों से दूर ही रहना चाहिए।

2. पेट में कीड़े हो तो आधा चम्मच हल्दी लेकर तवे पर सूखी भून लें। फिर इसे रात को सोते समय पानी से लें।

3. यह पेट के कीड़ों को नष्ट करने वाला उत्तम नुस्खा है छाछ में नमक तथा काली मिर्च का चूर्ण डालकर चार दिन तक पियें।

4. लहसुन की चटनी बनाकर उसमें थोड़ा सेंधा नमक डालकर सुबह-शाम चाटें। आराम मिलेगा।

5. दही में असली शहद मिलाकर तीन-चार दिन तक सुबह-शाम खाने से पेट के कीड़े मर जाते हैं।

6. एक चम्मच करेले का रस लेकर गर्म पानी में मिलाकर पियें।

7.दो चम्मलच अनार का जूस रोजाना लेने से पेट के कीड़े मर जाते हैं।

8. अजवाइन के सत्व की चार-पांच बूंदे पानी में डालकर सेवन करें।

9. पेट में कीड़े हो तो बच्चों को आधा चम्मच प्याज का रस दो- तीन दिन तक पिलाने से काफी लाभ होता है।

आयुर्वेदिक उपचार:

1. नीम की कोपलों को कुचलकर इसका एक चम्मच रस निकाल लें। इसमें शहद मिलाकर चाटें। इससे पेट के कीड़े मरकर मल के साथ बाहर निकल जायेंगे। यह दवा तीन-चार दिन तक सेवन करें।

2. नीम को पत्तियों को सुखाकर पीस लें और दो चुटकी चूर्ण शहद के साथ सेवन करें।

3. करेले के पत्तोंप का जूस निकाल कर उसे गुनगुने पानी के साथ पिलाएं

4. यदि आपको यह रोग सता रहा हो तो रोजाना सुबह खाली पेट ही टमाटर को आधा काटकर उस पर थोड़ी-सी हल्दी और सेंधा नमक लगाकर खिलाने से काफी लाभ होता है।

5. पेट में कीड़े हो तो कद्दू की सब्जी भी उपयोगी रहती है। एक सप्ताह तक खाली पेट ही कद्दू के आठ-दस बीज खायें।

Source: sehatgyan

Loading...

कृपया इस महत्वपूर्ण जानकारी को अपने परिवार और मित्रों के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करें! diagram-_1907.png

Next post:

Previous post:

0 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap