हजार तकरार – फिर भी मां – बेटी के बीच बेहद प्यार

हजार तकरार, फिर भी मां-बेटी के बीच बेहद प्यार

मां और बेटी का रिश्ता दुनिया के सब रिश्तों में अनमोल होता है। एक मां के लिए बेटी को जन्म देना काफी खुशी भरा पल होता है। बेटी को मां की छवी माना जाता है क्योंकि अपनी मां के कुछ गुण और आदतें तो बेटी होती ही है। बेटी के रूप में ही एक मां अपना बचपन देखती है लेकिन कई बार मां-बोटी के इस प्यारे रिश्ते में जरा सी नौंक-झौंक भी हो जाती है लेकिन फिर भी बेटी मां की प्यारी ही कहलाती है।

Loading...

1.अच्छी दोस्त

Loading...

इस प्यारे रिश्ते में कई तरह के अच्छे अहसास छिपे होते है। मां और बेटी दोनों अच्छी दोस्त भी होती है क्योंकि बेटी और मां अपनी सभी समस्या आपस में शेयर कर लेती है। मां को घर में अपना एक साथी भी मिल जाता है। अगर किसी वजह से दोनों में से किसी को तकलीफ होती है तो वह तड़प उठती है।  हजार तकरार, फिर भी मां-बेटी के बीच बेहद प्यार

Next post:

Previous post:

0 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap