दूध-दही है कई बीमारियों का उपचार

%image_alt%

दूध-दही कैल्शियम के प्रमुख स्रोत माने गए हैं।

Loading...

कैल्शियम हमारे दाँतों और हड्डियों के स्वास्थ्य के लिए बहुत जरूरी है और यह कैल्शियम दूध की अपेक्षा दही में 18 गुना अधिक होता है।

दूध के अंदर जो जीवित कीटाणु होते हैं, वे दही के साथ जम जाने पर दूध से कई गुना अधिक लाभप्रद हो जाते हैं।

उनमें पाचन की बड़ी विलक्षण शक्ति आ जाती है। दही में विटामिन बी की मात्रा भी अधिक होती है।

दूध जब दही का रूप ले लेता है तो उसकी शर्करा एसिड का रूप ले लेती है। इससे भी पाचन में मदद मिलती है।

रक्त की कमी, दुर्बलता से पीड़ित व्यक्तियों के लिए दही अमृत है।

भयानक बुखार में दही से दूर न भागें। दही बुखार के विष को तुरंत बाहर निकालता है।

हाँ, इसके लिए पर्याप्त मार्गदर्शन अवश्य लें। जिसके पेट में कीड़े हों, मोटापा हो, भोजन में स्वाद न आता हो या भूख कम लगती हो ऐसे व्यक्तियों को दही बहुत फायदा देता है।

दही को शरीर पर मलकर स्नान करने से त्वचा कोमल व खूबसूरत बनती है। दाँतों की बीमारियों में भी दहीं का सेवन लाभप्रद है। दही की लस्सी में शहद डालकर पीने से सौंदर्य में आश्चर्यजनक वृद्धि होती है

Source: sehatnama

कृपया सभी इस पोस्ट को फेसबुक और व्हाट्सप्प पर ज्यादा से ज्यादा शेयर करें …..

Loading...

Next post:

Previous post:

0 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap