लड़कियों में मोटापा – यानी बीमारियों को न्यौता

खान-पान में अनियमितता के कारण आजकल लड़कियों में मोटापा बढ़ता जा रहा है जो गंभीर बीमारियों की जड़ भी मानी जा रही है। मोटापे को बढऩे देने से पहले ही उसके लिए विचार करना और उसके रोकथाम के उपाय करना ही उसका सबसे बड़ा उपचार है। यह बात मुरलीपुरा स्थित एमडीडी हॉस्पिटल की निदेशक डॉ. सविता शर्मा ने कही।

Loading...

विश्व मोटापा दिवस पर उन्होंने कहा कि आजकल देखा जा रहा है कि नाबालिग बच्चों को असाधारण वनज बढ़ रहा है। खासतौर पर लड़कियों में कुछ अधिक। कहा कि जरूरी नहीं कि खान पान में गड़बड़ी के कारण ये बीमारियां केवल वयस्क को जकड़ती है, बच्चों को भी अपनी चपेट में ले रही है।

Next post:

Previous post:

0 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap