आईवीएफ प्रकिया के अनछुए बिंदु – आईजेनोमिक्स

We got a big response from you on Facebook about a piece on morning sickness.

इन विट्रो फर्टिलाइजेशन (आईवीएफ) एक ऐसा जारिया है जिसमें असिस्टिड रीप्रडक्टिव टेक्नोलोजी (आर्ट ) से अण्डे और स्पर्म को लैबोट्ररी की निगरानी में रखा जाता है । जिसके बाद यूटरस में प्रत्यारोपित किया जाता है । बता दें कि बांझपन के विकारों का कारण क्षतिग्रस्त फैलोपियन ट्यूब, पुरुषों में स्पर्म की कमी, गर्भाशय फाइब्रॉएड, ओव्यलैशन ,मिसकैरेज और गर्भाशय संबंधी समस्याओं होती है जो कि आईवीएफ के माध्यम से मरीज को बांझपन के विकारों से मुक्ति दिलाया जा सकता है । इसके साथ ही आनुवांशिक बीमारियों से भी छुटकारा दिलाया जा सकता है ।

Loading...

Next post:

Previous post:

0 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap