डेंगू के बुखार का इलाज़ सिर्फ 48 घंटों में !!!! जानीये कैसे

डेंगू का बुखार एक खतरनाक किस्म का बुखार होता है जो खास किस्म के मछरों के काटने से होता है | इस बुखार के होने से प्लेटलेट्स (Platelets) की गिनती कम हो जाती है नतीजे में शरीर में बेहद कमजोरी आ जाती है |

Loading...

अगर इस किस्म का बुखार आपको या आपके किसी नजदीकी को है तो हम आपको बता दें के डेंगू के बुखार का इलाज़ आप घर बैठे ही कर सकते हो और नतीजे 48 घंटो में आपके सामने होंगे | आज हम आपको बताने जा रहे है कैसे पपीते के पत्तों से आप डेंगू बुखार का इलाज़ कर सकते हो …. घर बैठे |

पपीता एक मशहूर फल है जिसके गुणों के बारे में हम सब अच्छी तरेह जानते है | पपीता कई बीमारियों का रामबाण इलाज़ है लेकिन क्या आपने कभी ये सुना है के पपीता फल के पत्तों से डेंगू जैसी बिमारी का इलाज़ सम्भव है ?

जी हां !!! पपीते के पत्तों से डेंगू के बुखार का इलाज़ सम्भव है | पपीते के पत्तों में विटामिन्स , प्रोटीन , कार्बोहाइड्रेट ,आयरन , कैल्शियम और फॉस्फोरस जैसे गुण भरपूर मात्राम में होते है |पपीते के पत्तों से डेंगू का इलाज़ हो सकता है यह बात डॉक्टरों दुआर प्रमाणित हो चुकी है |

निचे बताई गईं दो सची कहानिया डॉक्टरों दुआर बताई गयी है जिन्होंने पपीता के पत्तों से डेंगू के मरीजों का इलाज़ होते  देखा है  |

  • एक 30 वर्षा औरत को डेंगू का बुखार हो गया था जिसे हस्पताल लाया गया था हस्पताल में लाने के तीन दिन बाद उस औरत की हालत बद से बदतर हो गयी थी उसके प्लेटलेट्स की गिनती सिर्फ 28000 रह गयी थी और उसके फेफड़ों में पानी भर गया था | किसी ने उस औरत को पपीता के पत्तों का रस दिया , सिर्फ तीन दिनों के अंदर उसकी हालत में सुधार आ गया और वह बिलकुल तंदरुस्त हो गयी |
  • एक जवान लडके  को डेंगू का बुखार हो गया जिसकी वजेह से उसके प्लेटलेट्स (Platelets) की गिनती सिर्फ 15000 रह गयी थी वह उसे हस्पताल में भर्ती करवाया गया |ब्लड ट्रांसफ्यूजन के बाद भी उसकी हालत में कोई सुधार न आया | तो उसके पिता ने कहीं से पपीता के पत्तो से डेंगू के इलाज़ के बारे में सुना वह उनोहने पत्तो का रस मरीज को दिया और सिर्फ 24 घंटो में मरीज के प्लेटलेट्स की गिनती बढ़ कर 135000 तक आ गयी तो हस्पताल का सारा स्टाफ हैरान रह गया |

आज हम आपको बताएंगे कैसे आप डेंगू का इलाज़ कर सकते हो पपीता के पत्तों से |

Source: onlyayurved

कृपया इस महत्वपूर्ण जानकारी को अपने परिवार और मित्रों  के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करें!

Loading...

Next post:

Previous post:

0 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap