स्टैमिना कैसे बढ़ाये – ये खाएं

bananasकाम करने के लिए शरीर को उर्जा की जरूरत होती है लेकिन बहुत ही कम लोगों को मालूम है कि उर्जा के स्रोत क्या हैं? वह क्या चीज खाएं जिससे उनके शरीर को उर्जा मिले और वह ज्यादा से ज्यादा काम कर सके। आइए हम आपको वह चीज बताते हैं जिसे खाकर आप अपने अंदर स्टैमिना को बढ़ा सकते हैं।

Loading...

शकरकंद
शकरकंद को अंग्रेजी में स्वीट पटैटो कहते हैं जो काफी कुछ आलू से मिलता जुलता है। इसमें मौजूद विटामिन डी, फाइबर, कार्बोहाइड्रेट और कैरोटीन दांतों, हड्डिहयों, त्वचा और नसों की ग्रोथ व मजबूती प्रदान करता है। यह रोग प्रतोरोधक क्षमता को बढ़ाता है साथ ही उर्जा के निर्माण में भी सहायक है।

पीनट बटर
प्रोटीन और ओमेगा-3 फैट्स से यह भरपूर पीनट बटर उर्जा के स्तर को बढ़ाता है तथा मांसपेशियों को मजबूती प्रदान करता है। इसे घर पर असानी से बनाया जा सकता है। इसमें काफी कैलरी भी होती है, जो आपको रोजमर्रा के काम निपटाने के लिए काफी ऊर्जा प्रदान करती है।

केला
केला खाने के बहुत फायदे होते हैं, पोटैशियम से भरपूर केले में कई पौष्टिक तत्व मौजूद होते हैं जो कि सुस्ती को दूर करते हैं और थकान मिटाने में मददगार हैं। इसे खाने से विशेष प्रकार के हार्मोन्स का उत्पादन बढ़ाता है जो शरीर की स्टैमिना को बढ़ाने का काम करता है। केले में शर्करा, प्रोटीन, कैल्सियम, पोटाशियम, विटामिन और लौह तत्वों की प्रचुर मात्रा होती है। यह भूख लगने की स्थिति में यह उर्जा देती है, वहीं स्तनपान कराने वाली माताओं के लिए उत्तम टॉनिक है।

कॉफी
केन्द्रीय तंत्रिका तंत्र को उत्तेजित करके उसे सक्रिय रखने का काम कॉफी में मौजूद कैफीन करता है। अकसर देखा गया है कि सामान्य सी सिर दर्द में लोग चाय या कॉफी को पीना पसंद करते हैं। इससे शरीर को पूरे दिन उर्जा मिलती है।

दलिया
देखा गया है कि लोग खुद को उर्जा देने के लिए ओट्स यानि दलिया नियमित रूप से खाते हैं। दलिया बाजार में अलग-अलग तरह से कई फ्लेवर्स में उपलब्ध है। सामान्यत: ओट्स के सेहत के लिए बहुत अच्छा माना जाता है। यह न केवल त्वचा और सौंदर्य के लिए लाभदायक होता है बल्कि दलिया में भरपूर मात्रा में एंटी-ऑक्सीडेंट होते है जो शरीर से विषैले तत्वोंथ को निकाल देते हैं और शरीर में स्फूंर्ति लाते हैं। इसके सेवन से शरीर में अनावश्यक तत्वों में भी कमी आती है और शरीर के सभी अंग सुचारू रूप से चलते हैं। इसमें कार्बोहाइड्रेट प्रचुर मात्रा में पाया जाता है तथा यह आपके स्टेमिना के स्तर को दिन भर बनाए रखता है।

एवोकैडो
विटामिन ई से भरपूर एवोकैडो को मखनफल भी कहा जाता है। यह मूल रूप से अमेरिकी महाद्वीप का फल है। विटामिन के अलावा इस फल में एंटी-ऑक्सीडेंट प्रचुर मात्रा में पाया जाता है जो शरीर को आवश्यक उर्जा प्रदान करता है। यह आपके स्टैमिना को भी बढ़ाता है।

Source: sehatgyan

Loading...

कृपया इस महत्वपूर्ण जानकारी को अपने परिवार और मित्रों  के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करें! bananas

Next post:

Previous post:

0 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap