आखिर क्यों दी जाती है बादाम भिगोकर खाने की सलाह

बादाम

अगर आपको भी बादाम बिना भिगोए खाना पसंद है और आपको रातभर इसे पानी में भिगोकर रखने के विचार से परहेज है तो इसे बदलें. बादाम खाने का सही तरीका इसका छिलका उतारकर खाना है. ये केवल स्वाद की बात नहीं है बल्क‍ि स्वास्थ्य से जुड़ा मामला है.बादाम भिगोकर खाना क्यों है ज्यादा फायदेमंद

Loading...

हममें से बहुत कम लोगों को ही ये बात पता होगी कि बादाम के भूरे छिलके में टैनिन नाम का तत्व पाया जाता है, जिसकी वजह से पोषक तत्व पूर्ण रूप से अवशोषित नहीं हो पाते हैं. एक बार अगर बादाम को भिगो दिया गया तो उसका छिलका बहुत आसानी से उतर जाता है. इसके बाद जब आप बादाम खाते हैं तो उसका पूरा पोषण शरीर को मिलता है.

इसके अलावा भीगे बादाम खाने से पाचन क्रिया भी संतुलित रहती है. यह lipase नाम का एंजाइम स्त्रावित करता है जो फैट के पाचन के लिए कारगर है. इसके अलावा बादाम वजन घटाने में भी बहुत फायदेमंद होता है. इसमें मोनोसैचुरेटेड फैट्स होते हैं जिससे बादाम खाने के काफी देर बाद तक पेट भरा-भरा महसूस होता है.

भिगोए हुए बादाम एंटी-ऑक्सीडेंट्स का भी खजाना होते हैं, जिस वजह से ये बढ़ती उम्र के लक्षणों को कम करते हैं. भिगोए हुए बादाम में विटामिन बी17 और फॉलिक एसिड होते हैं, जिनको कैंसर के खतरे को कम करने वाला माना जाता है.

Source: aajtak

कृपया इस महत्वपूर्ण जानकारी को अपने परिवार और मित्रों  के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करें

Loading...

Next post:

Previous post:

0 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap