इन 5 मसालों को खाने से नहीं आएगा Heart Attack !

Heart-Attack-Riskखाने में इस्तेमाल होने वाले मसालों के बारे में जो हम जानते हैं वह बस इतना है कि मसालों के इस्तेमाल से खाने का स्वाद दोगुना हो जाता है. लेकिन जो हम नहीं जानते वह यह है कि मसालों में कई ऐसे गुणकारी तत्व भी पाए जाते हैं जो आपको Heart Attack होने की संभावना को कम कर देते हैं. तो यदि आप अपने दिल की सेहत को लेकर चिंता से घिरे रहते हैं तो नीचे बताए गए इन पांच मसलों का सेवन करें लेकिन यदि आपको कोई गम्भीर परेशानी या आपका कोई चिकित्सक इलाज चल रहा हो तो बिना विशेषज्ञ की सलाह के अपने खान पान में कोई बदलाव ना करें.
  • लहसुन : दिल की बिमारियों का सबसे बड़ा कारण होता है बढ़ा हुआ कोलेस्ट्रॉल. आप इसे कंट्रोल करने के लिए अपने खाने में लहसुन को शामिल कर सकते हैं. बताया जाता है कि लहसुन का सेवन करने से दिल से जुड़ी बीमारियों से दूर रहा जा सकता है.
  • हल्दी : एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी-ऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर हल्दी ब्लड कोलेस्ट्रॉल लेवल को घटाने में बेहद मददगार है. इसके साथ ही ये डायबिटीज से बचाव का भी अच्छा उपाय है.
  • काली मिर्च : कॉर्डियोप्रोटेक्ट‍िव एक्शन को सक्रिय करने का काम काली मिर्च करती है. इसके अलावा ये ऑक्सीडेटिव डैमेज से भी सुरक्षा प्रदान करती है और दूसरी ओर कार्डियक फंक्शन को भी बढ़ाती है.
  • दालचीनी : खाने में दालचीनी के सेवन से शरीर में ब्लड फ्लो तीव्र होता है. इससे खून का थक्का बनने की सम्भावना काफी कम हो जाती है. दिल से सम्बंधित बीमारियों से बचे रहने के लिए रोजाना चुटकीभर दालचीनी का सेवन करें.
  • धनिया के बीज : धनिया के बीजों में एंटी-ऑक्सीडेंट की अच्छी मात्रा पाई जाती है. इसमें मौजूदा तत्व फ्री रेडिकल्स से दिल को स्वस्थ रखने का काम करते हैं. कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल करने के लिए, ब्लड फ्लो को तीव्र करने के लिए धनिये के बीज का सेवन बेहद फायदेमंद होता है.

Source: indiatrendingnow

Loading...

कृपया इस महत्वपूर्ण जानकारी को अपने परिवार और मित्रों  के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करें!

Loading...

Heart-Attack-Risk

Next post:

Previous post:

0 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap