लाल मिर्च है कई रोगो के लिए रामबाण, जानिए इसके गुणों को

लाल मिर्च है कई रोगो के लिए रामबाण, जानिए इसके गुणों को...

भारतीय रसोई में लाल मिर्च का उपयोग प्रमुख रुप से किया जाता है। बात करें अगर आयुर्वेद की तो मिर्ची को आयुर्वेद में एक रोगाणुनाशक औषधि के रुप में माना जाता है। लाल मिर्च में कई ऐसे अनोखे और प्राकृतिक गुण पाए जाते है। स्वास्थ्य की बात करें तो मिर्च शरीर का वजन कम करनें और अन्य बीमारियों से मुक्ति दिलानें का काम करती है।

Loading...

ये सेहत के लिए कई तरह से फायदा पहुंचाती है। इसका उपयोग कई रोगो के लिए रामबाण का काम करता है। तो आइए आपको बताते है किस तरह के रोगो में इसका उपयोग किया जाता है।

कैंसर की समस्या में राहत-

लाल मिर्च में कैप्सासिन गुण पाया जाता है जो सीधे कैंसर की कोशिकाओं को काटता है और कैंसर को बढ़ने से रोकता है। इसलिए अपने भोजन में मिर्च का अवश्य उपयोग करना चाहिए।

वजन घटाए-

इसका उपयोग शरीर के मोटापा घटानें में किया जाता है। लाल मिर्च शरीर के अंदर मेटॉबालिज्म के स्तर को बढ़ाती है और शरीर से बढ़ी हुई कैलोरी को भी जलानें में सहायक होती है। इसके अलावा खाने से अधिक लगने वाली भूख को कम करनें में भी असरकारक होती है।

सांप,बिच्छू जैसे जहरीले जानवरों कांटने पर-

यदि बिच्छू द्वारा शरीर पर काट लिया गया हो तो उस जगह पर लाल मिर्च से बना पेस्ट लगा दें।
सांप के काटने पर पीड़ित इंसान को लाल मिर्च का पाउडर खिलाना चाहिए। क्योंकि जब सांप काटता है तब विष की वजह से मिर्च कड़वी व तेज नहीं लगती है और इससे विष जल्दी उतर जाता है।

मकड़ी के काटने से त्वचा पर दाने आने लगते हैं ऐसे में लाल मिर्च के चूर्ण को दानों के उपर डाल दें।

नींद का अधिक आना-

जिन लोगों को नींद अधिक आने की समस्या है वें पानी के साथ लाल मिर्च के पाउडर को मिलाकर इसकी तीन से चार बूंदे रात को खाना खाने से पहले लें।

पेट दर्द में दें राहत-

मिर्च का उपयोग गुड के साथ करनें पर यह पेट दर्द से राहत दिलाता है।

खुजली और दाद में असरकारक-

लाल मिर्च दाद, खाज और खुजली  जैसे त्वचा संबंधी बीमारियों के लिए बहुत ही फायदेमंद होती है। इसका उपयोग करनें के लिए लाल मिर्च के चूर्ण को एक कटोरी सरसों के तेल में मिला लें और इसे गर्म कर लें। बाद में इसे छानकर और ठंडा होने के बाद इसकी शरीर पर अच्छी सी मालिश करें।

दर्द निवारक औषधि के रुप में-

शरीर के किसी भी हिस्से में दर्द की समस्या यदि रहती हो तो अपने खाने में लाल मिर्च का सीमित इस्तेमाल जरूर करें। यह एक तरह का प्राकृतिक दर्द निवारक के रूप में काम करती है।

अल्सर के रोग में सहायक-

लाल मिर्च का सेवन करने से गैस्ट्रिक और अल्सर से छुटकारा पाया जा सकता है। बदहजमी की समस्या होने पर लाल मिर्च को पानी में मिलाकर पांच.पांच बूंदों का सेवन कर लें।

वैसे तो हैजा बीमारी खत्म हो चुकी है लेकिन आसार बने ही रहते हैं इस बीमारी के। यदि हैजा से ग्रसित कोई इंसान है तो उसे हर आधे घंटे के अंतराल में लाल मिर्च के पानी की पांच से आठ बूंदे पिलाते रहने से हैजा जैसी बिमारी को दूर किया जा सकता है।

Source: samacharjagat

कृपया इस महत्वपूर्ण जानकारी को अपने परिवार और मित्रों  के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करें!

Loading...

लाल मिर्च है कई रोगो के लिए रामबाण, जानिए इसके गुणों को...

Next post:

Previous post:

0 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap