बीसीजी टीकाकरण में कमी से 40% टीबी से ग्रसित बच्चों को ब्रेन टीबी

Jawaharlal Nehru Medical College Hospital, the workshop, 10 percent of children with disabilities,जवाहरलाल नेहरू चिकित्सा महाविद्यालय अस्पताल,आयोजित कार्यशाला,10 प्रतिशत बच्चे विकलांग

Loading...

शनिवार को जवाहरलाल नेहरू चिकित्सा महाविद्यालय अस्पताल के शिशु स्नातकोत्तर विभाग में आयोजित कार्यशाला में विभागाध्यक्ष डॉ. आरके सिन्हा ने कहा कि बीसीजी टीकाकरण में कमी की वजह से 40 प्रतिशत  टीबी से ग्रसित बच्चों को ब्रेन टीबी हो जाता है। इस रोग से देश में 30 प्रतिशत बच्चों की मौत हो जाती है।10 प्रतिशत बच्चे विकलांग हो जाते हैं।

डॉ. आरके सिन्हा ने कहा कि इस बीमारी से दो वर्ष से लेकर 10 वर्ष के बच्चे ज्यादा ग्रसित होते हैं। सप्ताह भर से बुखार, उल्टी, सिर दर्द एवं चमकी ब्रेन टीवी के लक्षण हैं। बीमारी की पहचान नहीं होने पर जानलेवा हो सकती है। अगर मरीज का इलाज बेहोश अथवा लकवा होने के पहले इलाज कर दिया जाय तो बच्चे को विकलांग होने या मौत से बचाया जा सकता है। कार्यशाला में डॉ. आशिष कुमार बसंत, डॉ. सुशील भूषण, डॉ. केके सिन्हा, डॉ. खलील अहमद, डॉ. अंकुर प्रियदर्शी, डॉ. राजीव कुमार आदि चिकित्सक एवं छात्र-छात्राएं उपस्थित हुए।

Source: sanjeevnitoday

Loading...

कृपया इस महत्वपूर्ण जानकारी को अपने परिवार और मित्रों  के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करें!
Jawaharlal Nehru Medical College Hospital, the workshop, 10 percent of children with disabilities,जवाहरलाल नेहरू चिकित्सा महाविद्यालय अस्पताल,आयोजित कार्यशाला,10 प्रतिशत बच्चे विकलांग

Next post:

Previous post:

0 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap