पेट के कीड़ों का काल है अलसी और अजवायन

linseed-and-celery-seedपेट के कीड़े अक्सर छोटे बच्चों को बार बार हो जाते हैं और सिर्फ बच्चों को ही नही बहुत से बड़े लोग भी पेट में कीड़े होने से परेशान रहते हैं. कीड़े निकालने के लिये दवाओं के बाजार में सिर्फ 2-4 तरह की ही दवायें मौजूद है जो सिर्फ इतना काम करती हैं कि पेट में मौजूद कीड़ों को बाहर निकाल देती है, बाकि दोबारा होने से रोकने के लिये कोई समाधान नही देती हैं । इस समस्या का सही समाधान छिपा है अलसी के बीजों और अजवायन में.

Loading...

इस अनोखी दवा को तैयार करना बहुत ही आसान है. अलसी के बीज और अजवायन दोनों को समान मात्रा में लेकर एक साथ पीसकर रख लें. और दवा तैयार है. ध्यान रखें कि अलसी के बीजों और अजवायन में कोई कंकड़ आदि अशुद्धियॉ न हों और पीसने के बाद इनको एयरटाईट डिब्बे में रखें.

प्रयोग करने के लिये इस तैयार चूर्ण को ताजे अथवा गुनगुने पानी के साथ फंकी करना होता है बस एक बार रात को सोते समय. 3 साल से छोटे बच्चों को 1-2 ग्राम की न्यूनतम मात्रा देनी चाहिये. 3-12 साल के बच्चे को 1 चम्मच तक दिया जा सकता है. 12 साल से बड़े लोगो को 1-2 चम्मच तक सेवन करने की सलाह दी जाती है. इसका सेवन लगातार 12-15 दिन तक करना चाहिये. सेवन काल में ध्यान रखें कि गरिष्ठ और कब्जकारक भोजन का सेवन ना करें.

Source: healthyday

Loading...

कृपया इस महत्वपूर्ण जानकारी को अपने परिवार और मित्रों  के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करें!
linseed-and-celery-seed

Next post:

Previous post:

0 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap