15 से 16 की उम्र के हर 10 में से एक बच्चा मोटापे चपेट में

15 से 16 की उम्र के हर 10 में से एक बच्चा मोटापे चपेट मेंबच्चों में मधुमेह खासकर उनकी खानपान की आदतों की वजह से होता है। वो संतुलित और पौष्टिक आहार के बजाए इन दिनों फॉस्ट फूड की ओर तेजी से आकर्षित हो रहे हैं। जो बेहद घातक है।

Loading...

इस भागती दौड़ती का असर अब सभी उम्र के इंसान पर साफ दिखने लगा है। इस जीवनशैली ने बड़ों के साथ -साथ नौवजवान किशोरों को अपना शिकार बनाने लगा। इस व्यस्त और असंतुलित जीवनशैली से किशोरों में मोटापे का खतरा कहीं अधिक दिखने लगा है। गौरतलब हो कि, देश में 15 से 16 साल के प्रत्येक 10 किशोरों में से एक मोटापे का शिकार हैं। जिससे कि उनमें मधुमेह समेत कई गंभीर बीमारियों की चपेट में आने का खतरा है। और सबसे अधिक दिल्ली के बच्चे  सर्वाधिक 69 फीसदी ग्रसित हैं। 15 से 16 की उम्र के हर 10 में से एक बच्चा मोटापे चपेट में

Next post:

Previous post:

0 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap