6 तरीके भयानक गले में खराश के छुटकारा पाने के लिए

सर्दी-जुकाम और गला खराब होने की समस्या इस मौसम में आम हैं। ठंड में गला खराब होना या गले का संक्रमण से हम आए दिन परेशान भी रहते हैं और इसे इतनी बड़ी समस्या भी नहीं मानते कि इसके लिए डॉक्टर के पास जाएं। ऐसे में दादी मां के बताए घरेलू नुस्खे आज भी घरों में गला खराब होने पर बहुत काम आते हैं। आइए जानें, किन घरेलू तरीकों से आपको गला खराब होने पर राहत मिल सकती है।
तुलसी का माउथवॉश
तुलसी प्राकृतिक एंटीसेप्टिक पौधा है जो गले के संक्रमण को खत्म करने में बेहद प्रभावी है। आप तुलसी का माउथवॉश बनाकर इससे गरारे लें। इसके लिए तुसली की पत्तियों को पानी के साथ उबाल लें और फिर ठंडा कर लें। इस मिक्सचर से माउथवॉश की तरह ही दिन में कई बार गरारे करें।
अदरक-शहद पेस्ट
गले को गर्माहट पहुंचाने के लिए और संक्रमण से दर्द में राहत पहुंचाने के लिए यह कारगर उपाय है। इसके लिए चार अदरक को पीसकर बारीक शहद ‌में मिलाएं और इसमें काली मिर्च डालकर पेस्ट बना लें। थोड़ी-थोड़ी देर पर इसे मुंह में डालें। चाहें तो अदरक की जगह लहसुन का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।
नमकीन पानी के गार्गल
पानी में नमक मिलाकर गुनगुना करके गरारे करने का फार्मूला बेहद प्रचलित और कारगर है। जब तक गला खराब रहे गरारे में कोताही कतई न बरतें।
लौंग, काली मिर्च और शहद का घोल
एक ग्लास पानी उबाल लें। इसमें एक चुटकी पिसी हुई लौंग, एक चुटकी काली मिर्च पाउडर और एक चम्मच शहद मिलाएं और रोज सुबह इसे पिएं। गले को आराम मिलेगा।
मेथीदाने
पानी में कुछ मेथी दाने डालकर गर्म कर लें। फिर पानी को छानकर उसके गरारे करें। इससे गले को आराम मिलेगा और संक्रमण जल्दी खत्म होगा।
तेजपत्ते की चाय
पानी में चीनी और तेजपत्ता जालकर खौलाएं और फिर छानकर चाहें तो दूध मिलाएं। तेजपत्ते की चाय पीने से गले को आराम होगा और रिकवर होने में आसानी होगी।
कृपया इस महत्वपूर्ण जानकारी को अपने परिवार और मित्रों  के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करें!

Loading...

Next post:

Previous post:

0 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap