अब प्रेगनेंसी में भी रहिये स्टाइलिश

आगे पढने के लिए next बटन पर क्लिक करें

Loading...

Sharing is caring!

आजकल की युवा पीढ़ी यदि वैडिंग ड्रैस, वैडिंग गाउन में लाखों रुपए खर्च करना जानती है, तो प्रैग्नैंसी के समय आरामदेह, स्टाइलिश कपड़ों पर खर्च करने में भी संकोच नहीं करती. समय के साथ सोच बदली है. गर्भावस्था में ड्रैस ऐसी हो, जिस में सांस भी आए, पेट न दिखे और मैं आकर्षक भी लगे. जैसे लूज कुरता, एथनिक वियर, घेरेदार ड्रैस जो टौप फिटेड हो यानी जो चिपकी न हो, हवादार भी रहे, भले ही अम्ब्रेला कट हो. कुछ महिला ऐसी भी हैं, जो सिर्फ गाउन चाहती हैं. वे काफ्तान मांगती हैं.

अब प्रेगनेंसी में भी रहिये स्टाइलिश

प्रेगनेंसी में एथनिक की कुरती का काफी चलन है. इस बात का ध्यान रखा जाता है कि मां को गर्भ के दौरान आरामदेह, ढीलेढाले लेकिन अच्छी फिटिंग वाले कपड़े मिलें. वेस्ट बैंड वाली जींस युवतियों की पहली पसंद है. मैक्सी विद प्लीट्स, स्कर्ट, काफ्तान, पोंचू, टौप्स और वेस्ट बैंड वाली सलवार कमीज ही प्रेग्नेंट महिलाओं की पहली पसंद हैं. वैस्टर्न और इंडियन दोनों तरह की पसंद रखने वाली महिलाओं के लिए मैटरनिटी वार्डरोब की लिस्ट में जींस, ड्रैस, स्कर्ट, टौप, स्लैक केपरी, स्विमसूट, स्वैटर या गाउन सब कुछ होता है.

प्रैग्नैंसी के दौरान, सलवारसूट की तरह पैंट्स पहनने में भी दिक्कत होती है. इसलिए परिधानों में विविधता के साथ आराम का भी प्रावधान हो. पैंट विद ऐडजस्टेबल वेस्ट, जींस विद इलास्टिक वेस्ट अच्छी रहती हैं. ओवर बंप हों ये तो ऐडजस्ट हो जाती हैं और लो राइज हों तो गिरती नहीं. इलास्टिक इसे पेट के उभार के अनुसार फिटिंग प्रदान करने का काम करता है. टौप और शर्ट भी स्ट्रैची मैटीरियल की मिलती हैं. यहां तक कि यदि जुड़वां या 3 बच्चे हैं तो भी ऐसे स्ट्रैची टौप्स और स्कर्ट्स को पसंद के अनुरूप पहना जा सकता है. ये कपड़े आप औनलाइन भी खरीद सकती हैं.

ध्यान रखने योग्य बातें

ड्रैस ढीली हो.

लंबी अधिक न हो, गिरने का खतरा रहता है.

एड़ी से ऊंची हो.

जहां तक हो सके कॉटन ड्रैस लें.

बहुत स्टाइलिश ड्रैस के पीछे न भागें. पारंपरिक परिधान फ्राक, बंगाली कुरता आरामदायक रहता है.

एंपायर स्टाइल शर्ट्स/ड्रैस. ये ऊपर से फिट और बस्ट से नीचे एकदम खुली लहराती रहती हैं.

स्कर्ट, पैंट, वेस्ट बैंड या इलास्टिक बैंड वाला बड़ा साइज लें.

यदि खुद सिल सकती हैं तो अवश्य सिलें या मनपसंद कपड़ा ले कर सिलवाएं.

कुछ कपड़े ऐसे रखें, जिन्हें जरूरत के अनुसार सिलवा सकें. जैसे, यदि जुड़वा हों या उभार ज्यादा हो तो उन के अनुकूल.

ये सब बातें ध्यान में रखें तो आप की पोशाक आरामदेह, स्टाइलिश, सस्ती और शरीर के उभारों को सामान्य आकार देती हुई आप की पोशाक यकीनन अच्छी लगेगी.

Source: palpalindia

कृपया इस महत्वपूर्ण जानकारी को अपने परिवार और मित्रों  के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करें!

Loading...

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
आगे पढने के लिए next बटन पर क्लिक करें

Next post:

Previous post:

x
Please "like" us: