बच्चे क्यों बहुत ज़्यादा रोते है?

आगे पढने के लिए next बटन पर क्लिक करें

Loading...

Sharing is caring!

%image_alt%

नवजात बच्चे के जीवन का एक हिस्सा है ‘रोना’। नवजात बच्चे दिन में औसतन दो घंटे तक रोते हैं। बच्चे के रोने, हालांकि रोने की आवाज दिन भर आती रहती है, ये क्रंदन की आवाज़ जुड़कर आपकी अपेक्षाओं से बढ़कर परिणाम देती है। जन्म से लेकर 6 सप्ताह के बीच की उम्र तक आते आते यह बढ़कर तीन घंटे तक हो जाता है। इससे फर्क नहीं पड़ता की आप क्या करते हैं? इन सबके बाद यह चिड़चिड़ापन आखिरकार कम होकर एक घंटे रह जाना चाहिए।

जैसे जैसे आप अपनी दिनचर्या के साथ व्यस्त और आश्वस्त हो जाते हैं वैसे वैसे ही उनके बारे में पूर्वानुमान लगाना आसान हो जाता है। अब आपका बच्चा ज़्यादातर समय कम चिड़चिड़ा रहता है। बच्चों का रोना, पर आपको हमेशा यह समझने की कोशिश करना चाहिए की आपके बच्चे के पास अपनी बात समझाने या संचार के ज़्यादा रास्ते नहीं हैं, और उसके आस पास जो बहुत सी चीज़ें चल रही हैं वह उन सब से वाकिफ़ नहीं है तो ऐसे में वह उदास हो जाता है।

यहाँ एक सुझाव है: आप अपने बच्चे को कैरियर में डाल कर जमीन में रख दें। अब उसके सिर के दोनों तरफ छोटे सॉफ्ट कंबल या डायपर रखेँ ताकि उसका सहारा लेकर आपको और अपने आस पास हो रही सभी चीजों को अच्छी तरह देख सके। जब भी आप उसके दृष्टि क्षेत्र से बाहर जाएँ या कहीं से उसके पास आयें तो उससे बातें करें। इससे वो यह समझने के क़ाबिल हो पाएगा या पाएगी की कुछ समय के लिए मम्मी उसके पास हो या उसके पास ना हों, पर वह सुरक्षित है।

Source: hinditips

कृपया इस महत्वपूर्ण जानकारी को अपने परिवार और मित्रों  के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करें!

Loading...

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
आगे पढने के लिए next बटन पर क्लिक करें

Next post:

Previous post:

x
Please "like" us: