• गर्भावस्था एक खुशखबरी भरा लेकिन साथ हीं चुनौतियों भरा समय होता है. Operation से बच्चे के जन्म के बाद जहाँ माँ को बहुत ज्यादा देखभाल की जरूरत होती है, तो साथ हीं माँ को बहुत सारी बातों का ध्यान भी रखना पड़ता है. सिजेरियन डिलिवरी के बाद निर्देशों का पालन न करना माँ के लिए खतरा भी बन जाता है. जबकि नॉर्मल डिलीवरी से स्त्री का शरीर भी ठीक रहता है, और माँ को कम खतरों का सामना करना पड़ता है. और नॉर्मल डिलीवरी के बाद महिलाएँ जल्दी हीं Recover हो जाती है. साथ हीं अगली बार गर्भवती होने पर भी बहुत ज्यादा परेशानियों का सामना नहीं करना पड़ता है.
    तो आइए हम कुछ उपाय जानते हैं, जिन्हें अपनाने से आपकी नॉर्मल डिलीवरी होने की सम्भावनाएं बढ़ जायेगीं. जिससे आपके शरीर को भी कम कष्टों का सामना करना पड़ेगा, साथ हीं आपके पैसे भी बचेंगे.
  • नॉर्मल डिलीवरी के लिए कुछ फायदेमंद टिप्स :
  • प्रसव पीड़ा सहने के लिए यह जरूरी है कि आपके शरीर में खून की बिल्कुल भी कमी न हो. तो किसी अच्छे डॉक्टर की देख-रेख में यह सुनिश्चित करें कि आपके शरीर में खून की पर्याप्त मात्रा है. अगर आपके शरीर में खून की कमी है तो, डॉक्टर की सलाह से खून बढ़ाने वाली दवाइयाँ लें. साथ हीं अपने खानपान में भी जरूरी सुधर लाएँ.
  • ताजे फल, आयरन, कैल्शियम, विटामिन तथा प्रोटीन युक्त भोजन करें. समय पर खाना खाएँ. ताजे फल, साग-सब्जियाँ इत्यादि का प्रयोग अपने भोजन में जरुर करें.
  • एक गर्भवती महिला पर्याप्त मात्रा में पानी पिए यह भी बहुत जरूरी होता है, इसलिए हर दिन 10-12 गिलास पानी जरुर पिएँ.
  • पैदल चलना और टहलना एक गर्भवती महिला के लिए बहुत फायदेमंद होता है. अतः आसपास कहीं आने-जाने के लिए पैदल आना-जाना करें.
  • डॉक्टर के निर्देश के अनुसार उन व्यायामों को करें जो एक गर्भवती महिला को करने चाहिए. याद रखिए अपने मन से व्यायाम करना आपके लिए खतरनाक हो सकता है. नियमित व्यायाम करने से आपकी मांसपेशियाँ मजबूत और लचीली हो जाती है. साथ हीं व्यायाम आपके दर्द सहने की क्षमता को भी बढ़ाता है. जिससे आपके नॉर्मल डिलीवरी की सम्भावनाएँ बढ़ जाती है.
  • हर दिन पर्याप्त नींद लें, नियमित रूप से अपने शरीर की मालिश करते रहें.
  • तनाव से बचने की हर सम्भव कोशिश करें, तथा इधर-उधर के बेकार की बातों के कारण चिंतित न हों.
  • आपका स्वस्थ्य रहना, एक स्वस्थ्य बच्चे के लिए बहुत जरूरी है.
  • और इस बात को बिलकुल न भूलें कि शरीरिक रूप से सक्रिय रहे बिना नॉर्मल डिलीवरी बिल्कुल भी सम्भव नहीं है.
  • गर्भ ठहरने की बात पक्की होने के बाद से हीं किसी अच्छी महिला डॉक्टर के सम्पर्क में रहें. तथा उन चीजों का पालन करें जो एक गर्भवती महिला को करनी चाहिए.
    नॉर्मल डिलीवरी एक माँ की स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद है. और एक बात बिल्कुल न भूलें कि आप एक बच्चे को जन्म देने जा रही हैं, तो इसके लिए आपको शरीरिक और मानसिक रूप से बिल्कुल मजबूत रहना होगा. अगर आप गर्भ ठहरने के तुरंत बाद से खुद को पूरी तरह से आराम की आदि बना देंगीं, तो नॉर्मल डिलीवरी की सम्भावना काफी हद तक कम हो जाएगी. अपने अनुभव हमारे साथ जरुर बाँटें.

Source: suvicharhindi

कृपया इस महत्वपूर्ण जानकारी को अपने परिवार और मित्रों  के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करें!