सावधान! प्रेग्नेंसी में कही आप ये गलती तो नहीं कर रहीं, जानिए

आगे पढने के लिए next बटन पर क्लिक करें

Loading...

Sharing is caring!

सावधान! प्रेग्नेंसी में कही आप ये गलती तो नहीं कर रहीं, जानिए - India TV

हर महिला का एक सपना होता है कि वह मां बनें। माना जाता है कि तभी वह पूर्ण रुप से महिला कहलाती है। जो कि एक अलग ही अनुभव होता है। प्रेग्नेंसी एक ऐसी अवस्था होती है जिसमें महिलाओं को कई समस्याओ का सामना करना पडता है।

इस अवस्था में अपना अधिक ख्याल रखना पडता है क्योंकि आपके द्वारा किया गया हर काम का असर आपके होने वाले बच्चे में पड़ सकता है। इसलिए इस अवस्था में अपना अधिक ध्यान रखने की जरुरत पडती है। हमाकी एक छोटी सी गलती हमारे लिए खतरनाक साबित हो सकती है। जानिए ऐसी ही एक गलती के बारें में जो कि अधिकतर महिलाएं को न पाता होने के कारण कर देती है। जानिए इनके बारें में।

माना जाता है कि प्रेग्नेंसी के शुरुआती महीनों में जब पेट ज्यादा बड़ा नहीं होता, तब आप पीठ के बल सोना ठीक है। लेकिन जब आप प्रेग्नेंसी के बीच या आखिर के महीनों में होती हैं तो इस तरह से सोना मुमकिन नहीं होता, क्योंकि इस वक्त पेट बढ़ता है।

इसके पीछे जो कारण है उसे समझना बहुत आसान है। जब आप पीठ के बल सीधा लेटते हैं तो आपका गर्भाशय दूसरे अंगों पर दबाव डालता है। ज्यादातर मामलों में गर्भाशय का दबाव नर्व्स पर पड़ता है जो शरीर के निचले भाग से ऊपर की तरफ ब्लड वापस लाता है।

अगर आप इस अवस्था में ज्यादा समय तक सीधा लेटें तो आपके दिल और फेफड़ों जैसे महत्वपूर्ण अंगों पर दबाव पड़ता है। जिससे कारण होने वाली संतान को पोषक तत्व और ऑक्सीजन कम मिल पाती है। और इससे रीढ़ की हड्डी, आंतों और ज्यादातर ब्लड वेसल पर भी दबाव पड़ता है।

 - India TV

इससे लोअर बैक पेन या हिप्स में पेन भी हो सकता है। इसके अलावा अगर आपने ध्यान दिय़ा हो कि रातभर पीठ के बल लेटने के बाद जब आप सुबह उठती हैं तो आपको चक्कर भी आ सकते हैं। इसीकारण प्रेग्नेंसी में सोने के दौरान पोज़िशन बदलने की सलाह दी जाती है। इससे आपको आराम मिलता है और शिशु सुरक्षित रहता है।

इसी कारण इस अवस्था में करवट लेकर सोने की सलाह सबसे ज्यादा दी जाती है। बाई करवट पर लेटने से शिशु को पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन मिलती है और ब्लड सप्लाई होता है। कुछ दिनों में ही ज्यादातर महिलाओं को समझ आ जाता है कि उन्हें इस तरह से सोने में ज्यादा आराम मिलेगा।

अगर फिर भी आपको आराम न मिल रहा हो तो दोनों पैरों के बीच तकिया दबा लें। अगर आपको पीठ के बल लेटने का मन कर रहा है तो ऊंचा तकिया या दो तकिये सिर के नीचे रखें। लेकिन इस तरह से थोड़ी देर के लिए ही आराम करें। थोड़ी देर बाद करवट पर लेट जाएं।

Source: khabarindiatv

कृपया इस महत्वपूर्ण जानकारी को अपने परिवार और मित्रों  के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करें!

Loading...

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
आगे पढने के लिए next बटन पर क्लिक करें

Next post:

Previous post:

x
Please "like" us: