पेट की चर्बी से पाना है निजात, तो इस समय न करें भोजन

आगे पढने के लिए next बटन पर क्लिक करें

Loading...

Sharing is caring!

पेट की चर्बी से पाना है निजात, तो इस समय न करें भोजन - India TV

आज हर दूसरा व्यक्ति मोटापा की चपेट में आ चुका है। जिससे वह निजात पाने के लिए क्या-क्या उपाय नहीं अपनाता है। जिससे उसका वजन कम हो जाएं। कई लोग तो कई घंटे जिम, एक्सरसाइज कर आपना पसीना निकालते है। जिससे की आपको मोटापा से निजात मिलें, लेकिन आप जानते है कि मोटापा को भगाना का आपके खाने से क्या संबंध है। अगर आप अनियमित रुस से घाना खाते है, तो आप चाहे जितना मेहनत कर लें मोटापा कम नहीं होगा।

अगर आप अगर आप देर रात जागते हैं तो इस दौरान खाने से दूरी आपकी नींद की कमी से पड़ने वाले नकारात्मक प्रभाव को कम कर सकता है। एक नए शोध में यह बात सामने आई है। रात के समय कम खाने से आपकी एकाग्रता और सर्तकता पर भी सकारात्मक प्रभाव पड़ता है।

पेन्सिलवेनिया विश्वविद्यालय के वरिष्ठ लेखक डेविड डिंगेज के अनुसार, “रात के समय जागने वाले वयस्क लगभग 500 कैलोरी की खपत करते हैं।” डिंगेज के अनुसार, “हमारे शोध से पता चला है कि देर रात जगने के बावजूद से खाने से बचने वाले लोग कई समस्याओं से दूर रह सकते हैं जिसमें तनाव प्रमुख है।”

शोधकर्ताओं ने अध्ययन के दौरान 44 प्रतिभागियों को लिया जिनकी उम्र 21 से 50 साल के बीच की थी। उन्हें दिन में बहुत सारा खाना और पानी आदि दिया गया। साथ ही इस दौरान उन्हें तीन रातों में केवल चार घंटे ही सोने दिया गया।

चौथी रात को 20 प्रतिभागियों को खाना और पानी देना जारी रखा गया जबकि बाकी लोगों को रात 10 बजे के बाद केवल पानी पीने की अनुमति दी गई। साथ ही इन सभी सुबह चार बजे सोने की अनुमति दी गई।

dont eat in night - India Tv

शोध के अनुसार देर रात उपवास रखने वाले प्रतिभागी ज्यादा स्वस्थ्य और तरोताजा नजर आए। वहीं, देर रात खाते रहने वाले सुस्त रहे और उनकी एकाग्रता पर भी नाकारात्मक असर पड़ा। इस शोध के नतीजे अमेरिका में छह से 10 जून तक आयोजित की जाने वाली एसोसिएटेड प्रोफेशनल स्लीप सोसाइटी की 29वीं वार्षिक बैठक के स्लीप-2015 में प्रस्तुत किया जाना है।
कृपया इस महत्वपूर्ण जानकारी को अपने परिवार और मित्रों के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करें!

Loading...

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
आगे पढने के लिए next बटन पर क्लिक करें

Next post:

Previous post:

x
Please "like" us: