नीम एक अच्छा गर्भनिरोधक भी माना जाता है

आगे पढने के लिए next बटन पर क्लिक करें

Loading...

Sharing is caring!

नीम एक अच्छा गर्भनिरोधक भी माना जाता है

भारतीय उपमहाद्वीप के शुष्क व अर्द्ध शुष्क जलवायु क्षेत्रों में होने वाला नीम का वृक्ष अनेक औषधीय गुणों की खान है। विज्ञान की भाषा में एजाडिरेक्टा इंडिका नाम से जाना जाने वाला यह वृक्ष मैलिएसी जाति का है तथा भारत के अतिरिक्त यह दक्षिण−पूर्व एशिया, मध्य अमेरिका, अफ्रीका, फिजी, मारीशस, अरब, फिलीपीन्स तथा कई अन्य देशों में भी पाया जाता है।

नीम के सभी अंग अर्थात् पत्ते, फूल, फल, छाल, शाखाएं आदि औषधि के रूप में प्रयोग किए जाते हैं। नीम के फल (निम्बोली) से बीज निकलता है जिससे तेल मिलता है। नीम के तने से गोंद मिलता है। ये भी दवा के रूप में प्रयोग किए जाते हैं।
आयुर्वेद के अनुसार नीम हल्का, कटु−तिक्त, कषाय शीतल होता है जो तीन प्रकार के दोषों अर्थात पात, पित्त और कफ संबंधी विकारों का नाश करता है। यह कब्ज मलेरिया, पीलिया, कुष्ठ प्रदर, सिर दर्द, दांत संबंधी रोगों और त्वचा रोगों में गुणकारी होता है। यह बहुत ही अच्छा रक्तशोधक तथा कीटाणुनाशक होता है।

Loading...

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
आगे पढने के लिए next बटन पर क्लिक करें

Next post:

Previous post:

x
Please "like" us: