क्या आपको भी होती है जांघों के बीच में खुजली, बस अपनाइए ये आसान उपाय

आगे पढने के लिए next बटन पर क्लिक करें
loading...

Loading...

Sharing is caring!

दोस्तों जैसा कि आपने देखा होगा पैरों के बीच यानी झांगो के आस पास लोगों को खुजली होती है. यह एक बिमारी है जिससे लोग आए दिन जूझते हैं यह बिमारी महिलाओं को ज्यादा होती है ऐसा नहीं है कि पुरुषों को नहीं होती. लेकिन जो लोग खेल कूद में ज्यादा सक्रिय रहते हैं उन्हें इस परेशानी से झूजना पड़ता है खासकर गर्मियों के समय में इस परेशानी का सामना करना पड़ता है. उस समय में पसीना आने कि वजह से खुजली बढ़ जाती है.

आपने अपने आस पास के लोगों को भी इस बिमारी से जूझते हुए देखा होगा. गर्मी के मौसम में चिपकने कि वजह से पसीना आता है जिस वजह से खुजली होने लगती है और ये जांघों के बगल में होने कि वजह से जल्दी ठीक भी नहीं होती. जब हम सार्वजनिक जगहों पर होते हैं तो खुजली करने में शर्मिंदगी भी महसूस होती है. इसलिए आज हम आपको ऐसा आयुर्वेदिक व घरेलू इलाज़ बताने जा रहे हैं जिससे आप खुजली और उससे होने वाली शर्मिंदगी से निजात प् पा सकते हैं. हम आपको बता दे कि ये घरेलू नुस्खे बहुत ही कारगर और आजमाएं हुए हैं, इसके कोई साइड इफेक्ट्स भी नहीं हैं.

आवंला: वैसे तो आप जानते हैं कि आवंला खाने से बहुत सी बीमारियाँ ठीक हो जाती है, तो वहीं आवंला कि गुठली को अगर आप जलाकर पीस ले और उसमें नारियल का तेल मिलाकर खुजली पर लगाएं तो दो दिन में आपकी खुजली का नामों निशान मिट जाएगा.

खट्टा दही: वैसे तो खट्टी दही कड़ी बनाने में काम आती है लेकिन खट्टी दही में खुजली दूर करने का गुण पाया गया है। इसे खुजली वाली जगह पर लगाएं और इस बिमारी से मुक्ति पाएं.

नारियल तेल: नारियल का तेल जितना खाने में गुणकारी है उतना ही शरीर में लगाने के लिए भी बहुत लाभकारी है. नारियल के तेल में नींबू का रस मिलाकर हल्के हाथों से मालिश करने से खुजली ठीक हो जाती है.

अजवायन: अजवायन बहुत ही लाभकारी होता है, खुजली के लिए पानी में अजवायन को पीस लें और खुजली के ऊपर लगाएं खुजली जड़ से समाप्त हो जाएगी।

केला: वैसे तो केला खाने में बहुत गुणकारी होता है लेकिन इसके और भी लाभ है. नींबू को केले के रस में मिलाकर खुजली वाली जगह पर लगाएं इससे खुजली ठीक हो जाती है।
नोट : इस आर्टिकल में दी गई जानकारियां रिसर्च पर आधारित हैं । इन्‍हें लेकर हम यह दावा नहीं करते कि ये पूरी तरह सत्‍य और सटीक हैं, इन्‍हें आजमाने और अपनाने से पहले संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।

Loading...
loading...

Spread the love
  •  
  • 9
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
आगे पढने के लिए next बटन पर क्लिक करें

Next post:

Previous post:

x
Please "like" us: